• साहसी नागरिक
  • 7 years ago
  • 4568 दर्शनों की संख्या

महोदय ; गोरखपुर के मो. पुराना…

Reported on April 30, 2014 from Gorakhpur , Uttar Pradesh  ι Report #36954

महोदय ; गोरखपुर के मो. पुराना गोरखपुर में शब्जी मण्डी के पश्चिम स्थित स्थीत प्राचीन क़ाल की बनी हुई हैंमंदिरों को जिसको वर्तमान में कुछ लोग कब्ज़ा कर लिए हैं सरकारी भू अभिलेख में मंदिर दर्ज हैं जिसको काटकर बाग़ फुल कर दिया गया हैं जो स्पस्ट दिखाई देता हैं। इन मंदिरों को और उसकी भूमि को हथियाने के लिए न० मुकदमा १६७४/९३ मुन्स्फ़ी वाद अदालत ने मौके की स्थिति देखते हुए शार्व्जनिक स्थल मंदिर उसकी भूमि और रास्ता घोषित किया जिसके बिरुद्ध जनपद न्यायधीश के पास न० मुकदमा ४०/२००३ दाखिल किया लेकिन माननीय न्यायालय ने न० मुकदमा १६७४/९३ की पुष्टि कर दी। लेकिन तहसीलदार व् लेखपाल ने भारी रिश्वत लेकर फर्जी काम कर दीया इस फर्जी काम को कराने वाला एक प्रभावशाली व्यक्ति हैं आज मंदिरों को तोड़ कर घर बनाया जा रहा हैं जब इस शार्व्जनिक स्थल की रच्छाहेतु सम्पूर्ण जानकारी सहित शिकायत की गयी तो [मंदिर का मामला हैं ??]कहते हुए पत्र लेने इंकार कर दिया !

What's your reaction?
comments powered by Disqus